Class 6 Hindi Grammar Chapter 7 वचन

Class 6 Hindi Grammar Chapter 7 वचन (Vachan). Students can read here about कक्षा 6 हिन्दी व्याकरण वचन – एकवचन तथा बहुवचन.

Examples and definition about 6th Hindi Vyakaran Vachan are given here, so that students can prepare for exams comfortably. Vachan ki pahchan ttha uske udaharan, Vachan ke niyam, aadi diye gae hain. Study here to score good marks and clear your concepts.

कक्षा 6 के लिए हिन्दी व्याकरण पाठ 7 वचन

कक्षा: 6हिन्दी व्याकरण
अध्याय: 7वचन – एकवचन तथा बहुवचन

वचन से आप क्या समझते हैं?

वचन

शब्द के जिस रूप से उसके एक या अनेक होने का बोध हो, उसे वचन कहते हैं।
वचन के भेद- हिंदी में वचन के दो भेद माने गए हैं-
1. एकवचन
2. बहुवचन

एकवचन
शब्द के जिस रूप से किसी वस्तु, व्यक्ति, प्राणी या पदार्थ के एक होने का बोध हो, उसे एकवचन कहते हैं।
जैसे कहानी, कुत्ता, लड़का, किताब, बिल्ली आदि।
बहुवचन
शब्द के जिस रूप से अनेक वस्तुओं, अनेक व्यक्तियों, अनेक प्राणियों तथा अनेक पदार्थों के होने का बोध हो, उसे बहुवचन कहते हैं।
जैसे- कहानियाँ, लड़के, कुत्ते, बिल्लियाँ आदि।




वचन की पहचान

वचन की पहचान संज्ञा या सर्वनाम से ही हो जाती है, जैसे
(i) घोड़ा दौड़ रहा है। घोड़े दौड़ रहे हैं।
(ii) मैं पढ़ रहा हूँ। हम पढ़ रहे हैं।
(iii) यहाँ पत्ता है। यहाँ पत्ते हैं।
(iv) वह खाना खा रहा है। वे खाना खा रहे हैं।

वचन की पहचान संज्ञा, सर्वनाम या विशेषण से नहीं हो रही हो तो क्रिया से हो जाती है, जैसे
(i) बालक खेल रहा है। बालक खेल रहे हैं।
(ii) मोर नाच रहा है। मोर नाच रहे हैं।

वचन संबंधी कुछ नियम

हिंदी में एक के लिए एकवचन का प्रयोग और एक से अधिक के लिए बहुवचन का प्रयोग किया जाता है। इस सामान्य नियम के अतिरिक्त कुछ और नियम भी ध्यान देने योग्य हैं।

एकवचन का बहुवचन के रूप में प्रयोग
(क) सम्मान प्रकट करने के लिए कभी-कभी एकवचन के लिए भी बहुवचन का प्रयोग किया जाता है; जैसे
1. माता जी आ गई हैं।
2. शास्त्री जी भारत के प्रधानमंत्री थे।
3. भीष्म पितामह प्रतापी व्यक्ति थे।

(ख) अभिमान, बड़प्पन और अधिकार जताने के लिए प्रायः “मैं” के स्थान पर “हम” का प्रयोग करते हैं। जैसे-
1. हमें अब शांति चाहिए।
2. हम एकांत में रहना चाहते हैं।

(ग) आँसू, दर्शन, केश, रोग, प्राण, होश, लोग आदि कुछ शब्दों का प्रयोग सदैव बहुवचन में होता है; जैसे-
1. होश उड़ गए।
2. उसके केश सुंदर हैं।
3. भगवान के दर्शन हो गए।
4. प्राण निकल गए।




बहुवचन का एकवचन में प्रयोग

(i) “तू” एकवचन है जिसका बहुवचन है “तुम”। किंतु आजकल लोक व्यवहार में “तुम” का प्रयोग एकवचन के लिए भी किया जाता है।
जैसे– रमेश तुम घर जाओ।

(ii) सेना, जाति, जनता, दल, वर्ग, एकवचन में प्रयुक्त होते हैं, जैसे
1. सेना ने शत्रुओं का दमन कर दिया।
2. जनता लोकतंत्र की नींव है। 3. बहुदलीय व्यवस्था भारत में है।

(iii) धातुओं का बोध कराने वाली जातिवाचक संज्ञाएँ एकवचन में ही प्रयुक्त होती हैं,
जैसे- 1. सोना बहुमूल्य धातु है।
2. लोहा मजबूत होता है।
3. हीरा सुंदरता की शान है।

वचन बनाने के नियम अकारांत स्त्रीलिंग शब्दों का बहुवचन बनाने के लिए अंतिम “अ” के स्थान पर “ए” कर देते हैं; जैसे- एकवचन, बहुवचन- चश्मा चश्में, पुस्तक पुस्तकें, सड़क सड़कें

आकारांत पुल्लिग शब्दों का बहुवचन बनाने के लिए अंतिम “आ” के स्थान पर “ए” हो जाता है।

एकवचनबहुवचन
बच्चाबच्चे
कुत्ताकुते
रुपयारुपये

आकारांत स्त्रीलिंग शब्दों का बहुवचन बनाने के लिए अंतिम “आ” के स्थान पर “एँ” लगा देते हैं।

एकवचनबहुवचन
गायिकागायिकाएँ
मातामाताएँ
मालामालाएँ
बालाबालाएँ

अंत में “या” आने वाले स्त्रीलिंग शब्दों के अंत में “अनुनासिका” (*) लगाते हैं।

एकवचनबहुवचन
चिड़ियाचिड़ियाँ
खटियाखटियाँ
डलियाडलियाँ



इकारांत अथवा ईकारांत स्त्रीलिंग शब्दों का बहुवचन बनाने के लिए “ई” को ह्रस्व कर “याँ” लगा देते हैं।

एकवचनबहुवचन
नदीनदियाँ
मछलीमछलियाँ
टोपीटोपियाँ

(प) “बंद”, “वर्ग”, “जन”, “लोग”, “गण” आदि शब्द जोड़कर भी शब्दों का बहुवचन बना देते हैं।

एकवचनबहुवचन
विद्यार्थीविद्यार्थीगण
मित्रमित्रवर्ग
गरीबगरीब लोग
Class 6 Hindi Grammar Chapter 7 Vachan ke prakar
Class 6 Hindi Grammar Chapter 7
NCERT Solutions for Class 6 Hindi Grammar Chapter 7
CBSE Solutions for Class 6 Hindi Grammar Chapter 7 Vachan