NCERT Solutions for Class 8 Hindi Grammar (Vyakaran)

NCERT Solutions for Class 8 Hindi Grammar updated for academic session 2020-2021. Student of UP Board, CBSE and other boards can take the benefits of these contents. Here, we will learn about Sangya, Sarvanam, Kriya, Visheshan, Patra Lekhan, Kahani lekhan, etc.

All the contents are simplified for class 8 students.

कक्षा 8 के लिए हिन्दी व्याकरण

कक्षा: 8हिन्दी
सामाग्री:हिन्दी व्याकरण

कक्षा 8 के लिए हिन्दी व्याकरण सत्र 2020-2021 के लिए

कक्षा 8 व्याकरण से सभी अध्याय निम्नलिखित हैं:




भारतीय भाषाएँ

संस्कृत भारत की प्राचीनतम भाषा है। भारत के संविधान की आठवीं अनुसूची में देश की अठारह भाषाएँ राष्ट्रीय भाषाएँ स्वीकार की गई हैं। उनके नाम इस प्रकार हैं- असमिया, उर्दू, उड़िया, कन्नड़, कश्मीरी, गुजराती, तमिल, तेलुगू, पंजाबी, बंगला, मराठी, मलयालम, संस्कृत, सिंधी, हिंदी, कोंकणी, नेपाली, मणिपुरी।

वर्ण-भेद: उच्चारण और प्रयोग के आधार पर हिंदी वर्णमाला के वर्गों को दो वर्गों में बाँटा गया है:

    • स्वर
    • व्यंजन

शब्दों का वर्गीकरण: हिंदी शब्दों का वर्गीकरण चार आधारों पर किया जाता है:

    1. अर्थ के आधार पर
    2. बनावट या रचना के आधार पर
    3. उत्पत्ति या स्रोत के आधार पर
    4. प्रयोग के आधार पर पर
लिपि चिह्नों का वर्गीकरण
    1. मूल लिपि चिह्न
    2. संयुक्त लिपि चिह्न
    3. मात्रा लिपि चिह्न
    4. विशिष्ट लिपि चिह्न
संज्ञा के प्रकार

संज्ञा के मुख्यतः तीन भेद माने जाते हैं:

    • व्यक्तिवाचक संज्ञा
    • जातिवाचक संज्ञा
    • भाववाचक संज्ञा



पुल्लिंग
शब्द के जिस रूप या चिह्न से उसके पुरुषवाचक होने का बोध हो, उसे पुल्लिंग कहते हैं। जैसे- राजा, नर, शेर, आम, संतरा, केला, जंगल, हिमालय, देश, सूर्य, मंगलवार, बैल आदि।
स्त्रीलिंग
शब्द के जिस रूप या चिह्न से उसके स्त्रीवाचक होने का बोध हो, उसे स्त्रीलिंग कहते हैं। जैसे- रानी, नारी, शेरनी, औरत, गंगा, यमुना, सरस्वती, पूर्णिमा, खटिया, रोटी, कबूतरी, भिंडी, गाय आदि।

    • एकवचन
      शब्द के जिस रूप से किसी एक वस्तु, पदार्थ, प्राणी या व्यक्ति का बोध होता है, उसे एकवचन कहते हैं। जैसे- लड़की, पुस्तक, कविता, गाड़ी आदि।
    • बहुवचन
      शब्द के जिस रूप से एक से अधिक वस्तुओं पदार्थों, प्राणियों या व्यक्तियों का बोध होता है, उसे बहुवचन कहते हैं। जैसे- लड़कियाँ, पुस्तकें, कविताएँ, गाड़ियाँ आदि।