NCERT Solutions for Class 5 Hindi Chapter 17 छोटी-सी हमारी नदी

Free and updated NCERT Solutions for Class 5 Hindi Chapter 17 (Rimjhim – Chhoti Si Hamari Nadi) छोटी-सी हमारी नदी, जो एक कविता है। Practice here with NCERT Exercises questions and extra questions with answers updated for academic session 2021-2022.

All the contents on Tiwari Academy website and app are free to use.

Class 5 Hindi Chapter 17 Chhoti Si Hamari Nadi Solutions

कक्षा: 5 हिंदी – रिमझिम
अध्याय: 17 छोटी सी हमारी नहीं

Question Answers of Chapter 17 Exercises

अभ्यास 17 के प्रश्न उत्तर

किस शब्द से पता चलता हैं कि नदी के किनारे जानवर भी जाते थे?

कविता में ढोर-डंगर शब्द से पता चलता है कि नदी के किनारे जानवर भी जाते थे।

कविता में नदी और उसके किनारों पर किस प्रकार की हलचल होने का पता चलता है?

कविता में नदी में टेढ़ी-मेढ़ी धार और इसके पेट में झकाझक बालू होने का पता चलता है। नदी के किनारों पर ताड़ वन होने और, नदी में छलांग लगा के नहाते हुए बच्चे और रात को सियारों के हुआने की हलचल का पता चलता है।

नदी की टेढ़ी-मेढ़ी धार किसकी तरह लगती है?

नदी की टेढ़ी-मेढ़ी धार ऐसे लग रही है जैसे बालू के बड़े से मैदान में खींची सर्पाकार रेखा हो।

बरसात में नदी का कौन सा रूप देखने को मिलता है?

कवि के अनुसार जैसे ही आषाढ़ का महिना शुरू होता है नदी का वेग बढ़ जाता है। नदी की तेज धार मतवाली होकर दनदनाती हुई कोलाहल के साथ आस-पास के इलाकों को अपने चपेट में लेते हुये तेजी से आगे बढ़ती है। बरसात में नदी का पानी गन्दा हो जाता है कहीं भंवर गोल-गोल घूम रहे हैं कहीं पानी की तेज धार किनारों से टकरा रही है जिसके कोलाहल से सारा गाँव गूँज उठता।

बच्चे नदी में मच्छली कैसे पकड़ते थे?

बच्चे कभी-कभी शाम को आँचल से छानकर छोटी-छोटी मछलियों को पकड़ा करते थे।

नदी के किनारे कौन सी बस्ती थी?

नदी के किनारे बामन टोला बसा हुआ था।

गाँव की औरतें नदी किनारे क्या करने जाते थी?

गाँव की औरतें नदी किनारे बर्तन धोने और कपड़े धोने के लिए जाती थी।

नदी के तट की क्या विशेषता थी?

नदी का तट काफी ऊंचा था। जिसके एक तट पर कांस घास उगी हुई थी जिस पर सफ़ेद फूल खिले हुए हैं। दूसरे तट पर ताड़ के पेड़ों की घनी छाँव में बामन टोला बसा हुआ था।

शहर के नजदीक बहने वाली नदी की विशेषता

मैं दिल्ली शहर में रहता हूँ जो यमुना नदी के किनारे पर बसा हुआ है। दिल्ली में यमुना नदी की दशा अत्यंत दयनीय है। इसका मुख्य कारण यह है कि यमुना जैसे ही हरियाणा से दिल्ली में प्रवेश करती है वही पर पानी को शुद्ध करने का सयंत्र लगा हुआ है। जिससे दिल्ली के लोगो के लिए पीने के पानी की आपूर्ति की जाती है। इसमें यमुना का लगभग सारा पानी इस्तेमाल हो जाता है। वहीं वजीराबाद वैराज के आगे दिल्ली के गंदे नाले मिलाने शुरू हो जाते हैं और ये गंदे नाले पूरी दिल्ली की सीमा में जगह-जगह नदी में गिरते हैं। वज्जीराबाद के आगे नदी का साफ़ पानी आ नहीं रहा है और तमाम गंदे नालों का पानी ही नदी के रूप में बदबू मारता हुआ पवित्र यमुना के नाम पर दिल्ली वालों की और यहाँ के सरकारों की तस्वीर बयां कर रहा है।

CBSE Class 5 NCERT Solutions App

Download the app for free NCERT Solutions for class 5 all subjects. Free NCERT Solutions App has all subjects in Hindi and English Medium. If someone is facing problem to access the contents, please contact us for help.

Class 5 Hindi Chapter 17 Question Answers
Class 5 Hindi Chapter 17




CBSE Class 5 Hindi Chapter 17
NCERT Class 5 Hindi Chapter 17




Class 5 Hindi Chapter 17 in PDF free